WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Sukesh Chandrashekhar Biography, Wiki, Controversy, Net worth, Nora Fatehi luxury BMW Car Gift by Sukesh Chandrashekhar

Sukesh Chandrashekhar Nora Fatehi connection, Nora Fatehi luxury BMW Car Gift by Sukesh Chandrashekhar, Jacqueline Fernandez

Sukesh Chandrashekhar Biography :- Sukesh Chandrashekhar एक बहुत बड़े भारतीय ठग माफिया में इनका नाम सुमार है. Sukesh Chandrashekhar कई वर्षो से भारत में ठगी का व्यवसाय कर रहा है. और यह जेल भी जा चूका है. साल 2007 में इसे पुलिस ने पहली बार गिरफ्तार किया था. हाल ही में Sukesh Chandrashekhar और Nora Fatehi काफ़ी चर्चा में है, चलिए जानते है की Sukesh Chandrashekhar और Nora Fatehi का आपस में क्या कनेक्शन है.

Nora Fatehi luxury BMW Car Gift by Sukesh Chandrashekhar

Who is Sukesh Chandrashekhar?

Sukesh Chandrashekhar भारत में लोगो को ठगने का कारोबार चलता है. Sukesh Chandrashekhar को भारत का सबसे बड़ा ठग कहा जा रहा है। इसे 2017 में गिरफ्तार करके दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद किया गया था। लेकिन जेल में रहते हुए भी वह अपने ठगी के व्यवसाय को सफलतापूर्वक चला रहा है और जेल में रहते हुए ही 500 करोड़ रुपये से अधिक ठगी की कमाई की है। हाल ही में Sukesh Chandrashekhar ने दिल्ली की रोहिणी जेल में रहते हुए शिविंदर सिंह की पत्नी अदिति सिंह से 200 करोड़ रुपये की ठगी की है.

Sukesh Chandrashekhar Biography

Sukesh Chandrashekhar Age Bio/Wiki
रियल नाम (Full Name)Sukesh Chandrashekhar
निक नाम (Nickname)Sukku
जन्म (Date Of Birth)
आयु (Age)33 Years (In 2021)
जन्म स्थान (Birth Place)bangalore
पेशा (Occupation)conman
राष्ट्रीयता (Nationality)Indian
होमटाउन (Home Town)bangalore
जाति (CASTE)
Zodiac Sign
ReligionHinduism
Present Addressbangalore
Schoolbishop cotton school bangalore

Sukesh Chandrashekhar & Nora Fatehi connection

Sukesh Chandrashekhar द्वारा जेल में रहते हुई भी 200 करोड़ रुपये की मनी लॉन्ड्रिंग के मामले की जाँच में बॉलीवुड के कई चहरे सामने आ रहे है. जिनमे से एक है बॉलीवुड एक्ट्रेस Nora Fatehi. नोरा फतेही से Sukesh Chandrashekhar के connection के बारे में Enforcement Directorate (ED) के पूछताछ के बाद यह सामने आया की नोरा फतेही का संबध और जान-पहचान Sukesh Chandrashekhar की पत्नी लीना पॉल के साथ थी. और 2020 में Nora Fatehi एक इवेंट में शामिल हुई थी, उस इवेंट में Nora Fatehi को Sukesh Chandrashekhar की पत्नी लीना पॉल ने बुलाया था. इस इवेंट के बाद Sukesh Chandrashekhar ने नोरा को BMW कार गिफ्ट की थी. जिसको लेकर Nora Fatehi को इस मामले में पूछताछ की गयी.

सरकारी नौकरी/योजना ग्रुप से जुड़े !
काम की बात, पढ़े...  [150]+ Download Anushka Sen hot photos in HD,2K,3K wallpapers of Anushka Sen Latest Beautiful Photoshoot images

Sukesh Chandrashekhar & Jacqueline Fernandez connection

Sukesh Chandrashekhar द्वारा 200 करोड़ रुपये की मनी लॉन्ड्रिंग के मामले की जाँच के बाद बॉलीवुड एक्ट्रेस Jacqueline Fernandez का नाम भी सामने आया है. Jacqueline Fernandez की Sukesh Chandrashekhar से अच्छी जान पहचान है. और एक दुसरे से कॉल पर बात करते रहते है.

Sukesh Chandrashekhar Cars

Sukesh Chandrashekhar द्वारा 200 करोड़ रुपये की मनी लॉन्ड्रिंग का मामला सामने आते ही प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने Sukesh Chandrashekhar के चेन्नई में समुद्र के सामने एक बंगले पर छापेमारी की. जिसमे luxury लाइफ जीने के सभी साधन मौजूद थे. छानबीन के दोहरान Sukesh Chandrashekhar के बंगले पर Lamborghinis, Porsches, Rolls Royces, Ferraris, Bentleys, Mercedeses, BMWs and Land Rovers कारों का कलेक्शन मिला है.

Sukesh Chandrasekhar Net worth

Sukesh Chandrasekhar की Net worth लगभग Rs. 300 Crores से भी ज्यादा है.

काम की बात, पढ़े...  Free Certificate Republic Day 2023: भारत सरकार दे रही है 74वें गणतंत्र दिवस के शुभ अवसर पर फ्री सर्टिफिकेट, आप भी उठाए फ्री सर्टिफिकेट का लाभ

Sukesh Chandrasekhar Wife

Sukesh Chandrasekhar ने मलयाली सिनेमा की अभिनेत्री लीना मारिया पॉल से शादी की है। लीना मारिया पॉल चेन्नई में स्थित आलिशान बंगले में रहती थी, जिसे the Enforcement Directorate (ED) अपने कब्जे में ले लिया है. लीना मारिया पॉल भी सुकेश के साथ मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में पुलिस की गिरफ्त में हैं.

Sukesh Chandrasekhar Bungalow

Sukesh Chandrasekhar Controversy

Sukesh Chandrasekhar ने महज 17 साल की उम्र में ही क्राइम की दुनिया में पैर रख दिया था. 2007 में सुकेश ने पूर्व सीएम कुमारस्वामी के बेटे का दोस्त बताकर उनके परिवार से 1.14 करोड़ रुपयों की ठगी की थी. जिसके आरोप में सुकेश को पुलिस ने गिरफ्तार किया था.

सुकेश का काम करने का तरीका बिलकुल आसान है. वह लोगो के सामने यह दिखावा करता है की वह पैसे वाले आमिर लोगो और businessman का रिश्तेदार है. जिसके बाद इस पर कोई भी विश्वास कर लेता है.

200 करोड़ रुपये की ठगी का क्या है पूरा मामला

इस मामले की शुरुआत एक फ़ोन कॉल से होती है. अदिति सिंह जोकि शिविंदर सिंह की पत्नी है ने 200 करोड़ रुपये की ठगी की शिकायत दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा में दर्ज कराई है।

आपको बता दे की शिविंदर सिंह अक्टूबर 2019 से ही तिहाड़ जेल में बंद हैं। इनपर आरोप था की रेलिगेयर फिनवेस्ट और रेलिगेयर एंटरप्राइज से 2397 करोड़ रुपए की हेराफेरी की है. इस आरोप के बाद पुलिस ने शिविंदर सिंह गिरफ्तार कर लिया.

काम की बात, पढ़े...  E SHRAM CARD New List 2023: इस लिस्ट में नाम होने पर मिलेगा ₹1000, ऐसे चेक करें E SHRAM CARD न्यू लिस्ट में अपना नाम?

इस मामले में अदिति सिंह ने पुलिस को बताया की उन्हें एक फ़ोन कॉल आता है, जिसमे सामने वाला व्यक्ति एक कानून मंत्रालय का अधिकारी होने का दावा कर रहा था. और उनके पति ( शिविंदर सिंह )को जमानत दिलाने की बात बताया.

यह फ़ोन कॉल अदिति सिंह को जून 2020 में आया था. जिसमे कानून मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के रूप में अपने पति को सुरक्षित जमानत दिलाने में मदद करने का दावा कर रहा था, इस काम को करने के लिए 200 करोड़ रुपये की मांग की गयी. इसके बाद अदिति सिंह को पैसे देने के बारे में भी जानकारी दी।

शिकायत दर्ज करने के बाद पुलिस जांच में जुट गयी. और जाँच में पता चला की सुकाश चंद्रशेखर उर्फ ​​सुकेश इन अपराधों के पीछे का मास्टरमाइंड है। पुलिस ने कहा कि चंद्रशेखर जेल के अंदर सेलफोन का इस्तेमाल कर जबरन वसूली की योजना बनाया करता था.

इस मामले में पुलिस ने जाँच के दोहरान प्रदीप रामदानी (7 अगस्त) और दीपक रामनानी (8 अगस्त) को हिरासत में ले लिया।

दिल्ली पुलिस का कहना है की “चंद्रशेखर ने मंत्रालय के लिए लैंडलाइन नंबरों को फर्जी बना दिया ताकि पीड़ित को यह विश्वास दिलाया जा सके कि फोन मंत्रालय से ही आ रहा है”

इस मामले की जाँच के बाद कई चाहते सामने आये जिनमे धर्म सिंह मीणा, सहायक जेल पर्यवेक्षक और सुभाष बत्रा, उपाधीक्षक इस धोखादड़ी रैकेट में शामिल पाए गए थे. उन्होंने चंद्रशेखर द्वारा दी जाने वाली रिश्वत के बदले में शेखर की मदद करने और सुविधा देने की बात स्वीकार की थी।”

पुलिस ने कहा कि कोमल पोद्दार (आरबीएल बैंक कनॉट प्लेस के प्रबंधक), जितेंद्र नरूला और अविनाश कुमार के साथ, धन को प्रसारित करने और नकदी की व्यवस्था करने की लेनदेन में शामिल थे। जिसके बाद इन्हें पुलिस हिरासत में ले लिया गया।

Rate this post

Leave a Comment